• किरण मजूमदार शॉ ने कहा- सरकार अर्थव्यवस्था पर आलोचना नहीं सुनना चाहती
  • शॉ से पहले राहुल बजाज ने कहा था- लोग सरकार की निंदा करने में डरते हैं
  • जो ऐलान अभी किए जा रहे हैं वे बजट में भी किए जा सकते थे: शॉ

Dainik Bhaskar

Dec 02, 2019, 09:49 PM IST

नई दिल्ली. बायोकॉन की अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक किरण मजूमदार शॉ ने सोमवार को कहा कि भारतीय उद्यमी (इंडिया इंक) न देश विरोधी हैं और न ही सरकार विरोधी। शॉ ने यह बात उद्योगपति राहुल बजाज का समर्थन करते हुए कही। बजाज ने कहा था कि सरकार की आलोचना करते हुए डर लगता है। दरअसल, उद्योगपति राहुल बजाज की टिप्पणी पर वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने संसद में कहा कि किसी के व्यक्तिगत अनुभव को इस तरह प्रचारित करने से “राष्ट्रीय हितों को चोट पहुंच सकती है।”

हम चाहते हैं कि देश की अर्थव्यवस्था तेजी से विकास करे: शॉ

शॉ ने इसी बात का जबाव ट्विटर पर दिया। उन्होंने लिखा, “मैडम, हम न तो राष्ट्र विरोधी हैं और न ही सरकार विरोधी। हम चाहते हैं कि देश की अर्थव्यवस्था तेजी से विकास करे और दुनिया में शीर्ष पर पहुंचें। मैं एक गर्वित गैर-राजनीतिक नागरिक हूं और सरकार से अच्छी नीतियों को बढ़ावा देने की उम्मीद करती हूं।”

उम्मीद है कि सरकार भारतीय उद्यमियों से सलाह लेगी: शॉ

इससे पहले बायोकॉन की चेयरपर्सन किरण मजूमदार शॉ ने रविवार को ट्वीट किया था कि उम्मीद है कि सरकार खपत और विकास के मुद्दे के समाधान के लिए भारतीय उद्यमियों की सलाह लेगी। सरकार ने ‘इंडिया इंक’ को अछूत समझ लिया है। वह अर्थव्यवस्था के मुद्दे पर किसी तरह की आलोचना सुनना नहीं चाहती।

यूपीए-2 के वक्त भी नीतियों की निंदा की थी: शॉ

शॉ के ट्वीट पर उनसे सवाल-जवाब भी हो रहे हैं। उन्होंने एक यूजर को जवाब दिया कि यूपीए-2 के वक्त भी उन्होंने सरकार की निंदा की थी। शॉ का कहना है कि हम सभी अर्थव्यवस्था को बढ़ाना चाहते हैं। जब नीतियों से सहमत नहीं होते तब अपनी बात रखते हैं। क्या आपको नहीं लगता कि जो ऐलान अब किए जा रहे हैं वे बजट में भी किए जा सकते थे।

शॉ के बयान से एक दिन पहले उद्योगपति राहुल बजाज ने भी कहा था कि लोग सरकार की निंदा करने में डरते हैं। बजाज के बयान पर प्रतिक्रिया में गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि सरकार पारदर्शी तरीके से काम कर रही है। किसी को डरने की जरूरत नहीं है। 

DBApp



Source link