ऑस्ट्रेलियाई कप्तान एरॉन फिंच ने शनिवार को कहा कि भारत के खिलाफ सीमित ओवरों की सीरीज युवा खिलाड़ियों के लिए विश्व कप में स्थान बनाने के लिए दावा पेश करने का सुनहरा मौका प्रदान करेगी, क्योंकि निलंबित स्टीव स्मिथ और डेविड वार्नर चोटिल चल रहे हैं.

स्मिथ और वार्नर दोनों बांग्लादेश प्रीमियर लीग में खेलते हुए चोटिल हो गए थे. दोनों की कोहनी में चोट लगी है और उन्हें सर्जरी करवानी पड़ी. यह स्पष्ट नहीं है कि वे 30 मई से शुरू होने वाले विश्व कप तक फिट हो पाएंगे या नहीं.

फिंच ने भारत के खिलाफ पहले टी20 मैच की पूर्व संध्या पर कहा कि निश्चित तौर पर यह लड़कों के लिए अच्छा प्रदर्शन करके एक स्थान के लिए अपनी चुनौती पेश करने का शानदार मौका है. डेविड वार्नर ने हाल में कोहनी का ऑपरेशन करवाया था और यह बात भी दिमाग में रहेगी. उन्होंने कहा कि लेकिन अगर वे इससे पूरी तरह से नहीं उबर पाते हैं या कुछ जटिलताएं पैदा हो जाती है और वे समय पर वापसी नहीं कर पाते हैं तो यह अन्य खिलाड़ियों के लिए अपना स्थान पक्का करने का बहुत बड़ा मौका है.

ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी बिग बैश लीग में खेलकर यहां पहुंचे हैं जिसमें शीर्ष क्रम के बल्लेबाज डी आर्ची शार्ट को टूर्नामेंट का सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी चुना गया था. वह 600 से अधिक रन बनाने वाले पहले बल्लेबाज भी बने. फिंच ने कहा कि हमें दो टी20 मैच खेलने है और खिलाड़ियों के पास बिग बैश की अपनी अच्छी फॉर्म बरकरार रखने और दुनिया की सर्वश्रेष्ठ टीम के खिलाफ उसकी घरेलू परिस्थितियों में खुद को परखने का मौका है.

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच इसके बाद पांच एकदिवसीय मैचों की सीरीज खेली जाएगी. फिंच ने कहा कि विश्व कप से पहले हमें अभी दस अंतरराष्ट्रीय स्तर के मैचों में खेलना है. भारत के खिलाफ सीरीज के अलावा हम पांच अन्य अभ्यास मैचों में भी खेलेंगे. इसलिए हमें खेलने का पर्याप्त मौका मिला और अगर हम सही दिशा में आगे बढ़ते रहे तो भारत को कड़ी चुनौती दे सकते हैं और श्रृंखला जीत सकते हैं.





Source link