Dainik Bhaskar

Nov 08, 2019, 10:22 AM IST

बॉलीवुड डेस्क (उमेश कुमार उपाध्याय). मुंबई में हुए 26/11 आतंकवादी हमले पर बनी फिल्म ‘होटल मुंबई’ में वर्जनल डायलॉग्स इस्तेमाल किया गया है। फिल्म के डायरेक्टर एंथनी मरास ने तकरीबन एक साल तक इस पर रिसर्च किया। उन्होंने घटना के वक्त पुलिस, होटल ताज के स्टाफ और सरवाइवर्स के बीच फोन पर हुई वास्तविक बातचीत को हासिल कर को-राइटर जॉन कोली के साथ मिलकर फिल्म के डायलॉग्स लिखे हैं।
 
फिल्म से मेरा जुड़ना इमोशनली था

 

मरास कहते हैं, “इस फिल्म से मेरा जुड़ना इमोशनली था। मैंने यह सोचकर फिल्म डायरेक्ट की कि अगर उस स्थिति मैं होता, तब लोगों के लिए क्या कर सकता था। मैं फिल्म की कहानी टीवी और न्यूज रिपोर्ट के जरिए मिली जानकारी के आधार पर नहीं, बल्कि वास्तविक बातचीत और इमोशन को लेकर बनाना चाहता था। इसकी मुख्य वजह सरवाइवर्स और आतंकियों की मानसिक स्थिति को बखूबी दर्शाना था।”

 

होटल मुंबई।

 

मरास ने अपनी रिसर्च के बारे में बताया, “होटल मुंबई बनाने के लिए काफी रिसर्च की जरूरत थी, जिसमें एक साल का वक्त लगा। मैंने कई सरवाइवर्स और ताज होटल के स्टॉफ से बातचीत की। फोन ट्रांसक्राइव की बातचीत हासिल करना आसान नहीं था। फिर भी मेहनत-मशक्कत करके इसे प्राप्त किया और इसी के जरिए डायलॉग्स बनाते हुए उन्हें फिल्म में इस्तेमाल किया।” 

 

होटल मुंबई।

 

बकौल मरास, “मैं लोगों के सामने सही घटना को लाना चाहता था।  यही वजह है कि फिल्म में वर्जनल डायलॉग्स को शामिल किया, ताकि यह लोगों के दिल को छू सके।” अनुपम खेर और देव पटेल स्टारर यह फिल्म 22 नवंबर को रिलीज होगी। 



Source link