भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर आजाद को दिल्ली की तिहाड़ जेल से रिहा कर दिया गया है. गुरुवार को जब चंद्रशेखर आजाद तिहाड़ जेल से बाहर आए, तो समर्थकों ने माला पहनाकर उनका स्वागत किया. बुधवार को दिल्ली की तीस हजारी कोर्ट से सशर्त जमानत मिलने के बाद भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर आजाद को तिहाड़ जेल से रिहा किया गया है.

बुधवार को जमानत देते हुए अदालत ने कहा था कि तिहाड़ से रिहा होने के बाद चंद्रशेखर अगले 4 सप्ताह तक दिल्ली में नहीं रहेंगे, क्योंकि दिल्ली में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं. साथ ही जब तक मामले में चार्जशीट दायर नहीं होती है, तब तक वो हर शनिवार को उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में एसएचओ के सामने हाजिरी देंगे. बुधवार को सुनवाई के दौरान कोर्ट ने चंद्रशेखर आजाद को फटकार भी लगाई.

वहीं, बुधवार को चंद्रशेखर के वकील महमूद प्राचा ने कोर्ट से कहा कि नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करने के दौरान चंद्रशेखर को गिरफ्तार किया गया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जब किसी से दिक्कत होती है, तो वो पुलिस को आगे कर देते है. इस पर कोर्ट ने कहा कि चंद्रशेखर को प्रधानमंत्री का सम्मान करना चाहिए.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें

  • Aajtak Android App
  • Aajtak Android IOS





Source link